About Us

Our Vision:

To ensure a resurgent, undivided & undaunted India, which no longer yields to any form of economic, physical and mental colonization and creates a Dharmic Empire of true Harmony & unbound universal peace.

Our Mission:

To nurture Rural/Tribal & Urban leaderships & Entrepreneurships at local, national & international levels through intensive interactions with Rural/Tribal communities & generating innovative & applicable ideas of sustainable & interdependent living.

From the Founder’s Desk:

 

गाँव के युवा शहरों में नौकरी करने न जाएँ । गाँवों का अपना एक संसार बने । इसलिए हमारा प्रयास है :

– गाँवों का अपना स्वावलंबी स्वाभीमानी चरित्र बना रहे
– शहरों की उपभोक्तावादी संस्कृति उनपर हावी न हो पाये
– गाँव के विद्यालयों में ग्रामोपयोगि शिक्षा प्रदान की जाय
– माई बाप सकरकारवाद समाप्त हो

– महिलाएं पुरुषों जैसा बनाने की बजाय उन्हें अपने जैसा संवेदनशील, साहसी व् धर्मपरायण बनाये

– हर गाँव का अपना सत्यनिष्ठ नेतृत्व खड़ा हो

– गाँवो की अपनी पर्यावरणवादी अर्थव्यवस्था उपजे

Amitabh soni